जन्माष्टमी पर घर में ऐसे सजाएं कान्हा जी की झांकी, दूर होगा वास्तु दोष आएगी सुख -समृद्धि

[ad_1]

Janmashtami 2022 Date, Kanha Ki Jhanki, Vastu Dosh: देश में जन्माष्टमी के महोत्सव की तैयारी बड़े धूम-धाम से चल रही है. लोग अपने घरों में कान्हा जी की झांकी सजाना शुरू कर दिए होंगे. पंचाग के अनुसार इस बार जन्माष्टमी तिथि दो दिन है. ऐसे में जन्माष्टमी का त्योहार कुछ लोग 18 अगस्त को मनायेगे और कुछ लोग 19 अगस्त को. मथुरा में जन्माष्टमी का त्योहार 19 अगस्त को मनाया जाएगा.  

घरों में सजायें कान्हा जी की झांकी, दूर होगा घर का वास्तु दोष

जन्माष्टमी के दिन लोग अपने घरों में कान्हा जी की झांकी बनाते हैं. झांकी में भगवान कृष्ण की बाल रूप की प्रतिमा या चित्र रखते है. उन्हें उनकी सबसे प्रिय चीज बांसुरी अर्पित करते हैं. पूरे दिन व्रत रखकर मध्य रात्रि को उनकी पूजा करते हैं. पूजा करने के बाद सभी को प्रसाद वितरण करते हैं. मान्यता है कि कान्हा जी की बांसुरी को घर में रखने से सुख-समृद्धि में बढ़ोत्तरी होती है. कान्हा जी की झांकी घर में बनाने से परिवार से रुठी खुशहाली पुन: वापस आ जाती है. वास्तु शास्त्र के अनुसार बासुंरी को घर में रखने से न केवल शुभता और शांति आती है बल्कि घर का सारा वास्तु दोष भी समाप्त हो जाता है.

मान्यता है कि जन्माष्टमी व्रत रखने और कान्हा जी पूजा करने से संतान की चाह रखने वालों को संतान सुख की प्राप्ति होती है.

घर में ईशान कोण पर कान्हा जी की झांकी बनाने से घर की नकारात्मकता दूर हो जाती है. घर परिवार में खुशहाली फैलती है तथा शांति बनी रहती है.

यदि वास्तु दोष के चलते घर में कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तो जन्माष्टमी के दिन घर में कान्हा जी की झांकी बनाएं तथा कान्हा जी को बांसुरी अर्पित करें. दूसरे दिन इस बांसुरी को घर की पूर्व दीवार पर तिरछी लगा दें. वास्तुशास्त्र की मान्यता है कि ऐसा करने से घर का वास्तु दोष खत्म हो जाता है.

 

 

 

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *