नाथद्वारा के नंदोत्सव में दूध-दही की होली: कान्हा के जन्म पर उत्सव, श्रीजी के बडे़ मुखिया बने नंदबाबा


राजसमन्द26 मिनट पहले

नाथद्वारा में नन्दोत्सव का आनन्द लेते श्रद्धालु।

नाथद्वारा में शनिवार को नन्दोत्सव बडे उत्साह के साथ मनाया गया। इस अवसर पर श्रीजी के बडे़ मुखिया इंद्रवदन गिरनारा नंदबाबा और नवनीत प्रियाजी के मुखिया भगवान दास सांचिहर ने यशोदा मैया का रूप धारण किया। श्रीनाथजी के भीतरिया की सेवा वालों ने ग्वाल-बाल व गोपी का रूप धारण किया।

ग्वालबालों ने श्रीजी के के सामने पालने में लाडले लाल को विराजित कर झूला झुलाया। खिलौनों से खिला कर लाड़ लड़ाए। गोप गोपियों ने मणिकोठे में श्रीजी के सामने कीर्तन गान व नृत्य किया।

नाथद्वारा में नन्दबाबा बने श्रीजी के बडे़ मुखिया।

इस दौरान धन्य दिवस, धन रात, धन यह पहर घरी, धन-धन महरजू की कूंख सुहाग भरी का छंद गाया गया। बाद में आरती वाली गली में रखी दही-दूध की नादें रतन-चौक, कमल-चौक, धोली पटिया, व गोवर्धन-पूजा के चौक पर रखी। ग्वाल बालों द्वारा दूध-दही का भक्तों पर छिड़काव किया गया। मंदिर में श्रीकृष्ण जन्मकुण्डली का वाचन भी किया गया।

https://www.videosprofitnetwork.com/watch.xml?key=019faf0ba059e9646f978d9dc2d65b2e
दूध-दही की होली खेलेते ग्वाल बाल व श्रद्धालु।

दूध-दही की होली खेलेते ग्वाल बाल व श्रद्धालु।

इस दौरान श्रद्धालु श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के रंग में डूबे हुए नजर आए। हर तरफ एक ही स्वर लालो आयो रे – लालो आयो रे का स्वर सुनाई दिया। श्रद्धालुओं ने उत्साह पूर्वक मंदिर में जमकर नृत्य किया। हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की के गगन भेदी जयघोष से मंदिर का वातावरण कृष्णमय बन गया।

खबरें और भी हैं…



Source link

https://sluicebigheartedpeevish.com/u4j5ka2p?key=f9b1fb0aab078545b23fc443bdb5baad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: